इस्कॉन मंदिर द्वारा निकाली गई भव्य शोभायात्रा

संवाददाता संजय सिंह चौहान
नोएडा। आगामी 24 अगस्त को श्री कृष्ण जन्माष्टमी महा- महोत्सव से पूर्व आज नोएडा के इस्कॉन मंदिर द्वारा भव्य शोभायात्रा निकाली गई। यह शोभायात्रा सेक्टर 18 स्थित गुरुद्वारे से प्रारंभ होकर मेट्रो स्टेशन, सबमॉल,डीएम चौक, स्पाइस मॉल होते हुए सेक्टर 33 स्थित इस्कॉन मंदिर पर समाप्त की गई। शोभायात्रा में सात झांकियां थी जिनमें प्रथम झांकी श्री श्री गौर निताई कलयुग में श्री कृष्ण एवं बलराम के अवतार के सुंदर विग्रहों की रहीं। इस शोभायात्रा का मुख्य आकर्षण वृंदावन के राधा कृष्ण, द्वारिका के राधा कृष्ण, कृष्ण बलराम, और श्री राम दरबार की झांकियों में सीता,राम, लक्ष्मण, हनुमान की झांकियों में आकर्षित रूप में सजे हुए बच्चों की मनोहारी झांकियां थी। यह बच्चे इसकाॅन नोएडा द्वारा चलाए जा रहे प्रहलाद स्कूल के थे। जो कि 15 वर्ष से छोटी आयु के बच्चों के लिए है। इसमें बच्चों को वैदिक संस्कृति ज्ञान के साथ-साथ गायन, योग, चित्रकला, वाद्ययंत्र, एवं नृत्य की शिक्षा प्रदान की जाती है। इस शोभायात्रा में विभिन्न देशों के भक्त सम्मिलित हुए। इसके अतिरिक्त शोभायात्रा में बैंड एवं घोड़े इत्यादि भी मौजूद रहे। जैसे ही भक्तों ने कीर्तन आरंभ किया प्रत्येक व्यक्ति नृत्य करने लगा। 4 घंटे की शोभायात्रा ने नोएडा को हरे कृष्ण की ध्वनि से पूरित कर दिया। सफेद धोती कुर्ते में पुरुष भक्तों एवं सुंदर रंगीन साड़ियों में सुसज्जित महिला भक्त शोभायात्रा में कीर्तन एवं नृत्य करते हुए ऐसे लग रहे थे। मानो विश्व को बचाने के लिए स्वर्ग से देवी देवता अत्यंत शक्तिशाली भगवान के पवित्र नाम का अस्त्र लेकर भूमि पर उतर आए हैं। शोभा यात्रा के दौरान हजारों लोगों को प्रचुर मात्रा में हलवा प्रसाद वितरित किया गया। भक्तों की प्यास बुझाने के लिए भारी यात्रा में पीने के पानी का एक विशेष टैंकर साथ में रहा। सड़कों पर गंदगी ना हो इसके लिए विशेष ध्यान रखा गया। हरे कृष्ण भक्तों ने भागवत गीता, रामायण एवं अन्य आध्यात्मिक ग्रंथों का वितरण किया। शोभायात्रा शायं 8:00 बजे इस्कॉन मंदिर पहुंची। जहां सभी को रात्रि भोज किया । शोभायात्रा में लगभग 3000 लोगों ने भाग लिया। इस शोभा यात्रा का उद्देश्य संपूर्ण नोएडा वासियों को 24 अगस्त 2019 को भगवान के जन्म दिवस श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव के लिए आमंत्रित करना था। ताकि लोग भगवान का दर्शन लाभ लेकर उनकी कृपा प्राप्त कर सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.