जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 ‘हटाने’ के बाद महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला को हिरासत में लिया गया

मोदी सरकार द्वारा राज्यसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पास कराने के कुछ ही देर बाद पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला को हिरासत में ले लिया गया है। बता दें कि अब तक जम्मू-कश्मीर के दोनों मुख्यमंत्रियों को नजरबंद किया गया था, मगर राज्यसभा की कार्यवाही खत्म होते ही महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला समेत दो अन्य नेताओं को हिरासत में लिया गया। यह जानकारी एक सरकारी अधिकारी ने समाचार एजेंसी पीटीआई को दी।

पीटीआई की खबर के मुताबिक, महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला के अलावा जम्मू और कश्मीर पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के नेता सज्जाद लोन और इमरान अंसारी को भी हिरासत में लिया गया है। पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती को दिए गए एक नोटिस में श्रीनगर के कार्यकारी मजिस्ट्रेट ने कहा कि उन्हें हिरासत में इसलिए लिया गया है क्योंकि उनकी गतिविधियों से “शांति भंग होने की संभावना है”।

गौरतलब है कि इससे पहले रविवार की रात को पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला को नजरबंद किया गया था। इतना ही नहीं, घाटी में मोबाइल इंटरनेट सर्विस को निलंबित कर दिया गया था। मोदी सरकार द्वारा आर्टिकल 370 को खत्म करने के बाद महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट कर कहा था, ‘आज का दिन भारतीय लोकतंत्र का स्याह दिन है। साथ ही उन्होंने सरकार के इस कदम को गैरकानूनी और असंवैधानिक बताया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.