शारीरिक रूप से सक्रिय लोगों में गंभीर कोविड पनपने का खतरा कम, अध्ययन में दाव

शारीरिक रूप से सक्रिय लोगों में कोविड-19 का गंभीर संक्रमण पनपने का खतरा बेहद कम होता है। ‘ब्रिटिश जर्नल ऑफ स्पोर्ट्स मेडिसिन’ में प्रकाशित हालिया अध्ययन में यह दावा किया गया है। शोधकर्ताओं ने पाया कि जो लोग हफ्ते में कम से कम 150 मिनट की मध्यम या तीव्र गति की एक्सरसाइज करने की अमेरिकी स्वास्थ्य विभाग की सलाह को अमल में लाते हैं, उनमें कोरोना की जद में आने पर अस्पताल में भर्ती होने, आईसीयू में रखे जाने या संक्रमण से दम तोड़ने के मामले बेहद कम देखने को मिलते हैं।

एक्सरसाइज से इसलिए होता है फायदा
शारीरिक सक्रियता रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए जानी जाती है। कोशिकाओं में सूजन घटाने से लेकर हृदय और रक्त प्रवाह प्रणाली में सुधार लाने में इसकी अहम भूमिका पाई गई है। ‘फील गुड’ हार्मोन का स्त्राव बढ़ने और स्ट्रेस हार्मोन ‘कॉर्टिसोल’ के स्तर में कमी आने से एक्सरसाइज डिप्रेशन से बचाव में भी खासी मददगार साबित होती है।

व्यायाम की कमी ज्यादा संवेदनशील बनाती है
कोविड-19 का गंभीर संक्रमण शारीरिक असक्रियता के संभावित दुष्प्रभावों में से एक है। दरअसल, एक्सरसाइज की कमी मोटापे, टाइप-2 डायबिटीज, हृदयरोग, स्ट्रोक और कैंसर सहित कई जानलेवा बीमारियों का सबब बन सकती है। दुनियाभर से प्राप्त आंकड़े दर्शाते हैं कि ये बीमारियां इंसान को कोरोना संक्रमण के प्रति अधिक संवेदनशील बनाती हैं।

कितनी कसरत काफी
-150 मिनट की मध्यम या तीव्र गति की एक्सरसाइज करने की सलाह देते हैं विशेषज्ञ हफ्तेभर में
-22 मिनट का व्यायाम काफी है इस लिहाज से रोज, जिम जाना या उपकरण खरीदना जरूरी नहीं

इन पांच तरीकों से पूरा होगा लक्ष्य
1.पार्क में टहलने के लिए समय न निकाल पाएं तो बाजार या ऑफिस जाते समय कुछ दूर पैदल चलें।
2.फोन पर बात करते-करते टहलें, गाने सुनते समय चहलकदमी करें, पालतू कुत्ते को बाहर घुमाने ले जाएं।
3.एक साथ समय न मिले तो टुकड़ों-टुकड़ों में चार से पांच मिनट कसरत करें, अलग-अलग पद्धति आजमाएं।
4.स्कूल के दिनों के पसंदीदा खेल को अपनी रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा बनाएं, बच्चों संग खेलने के बहाने ढूंढें।
5.फिटनेस ट्रैकर खरीदें, शारीरिक सक्रियता के स्तर पर नजर रखने और खुद को कसरत के लिए प्रेरित करने में मदद मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.