Home » Archives by category » आलेख

इन्साफ की आवाज़ बने भाई रऊफ सिद्द्दिक़ी

इन्साफ की आवाज़ बने भाई रऊफ सिद्द्दिक़ी

उत्तरप्रदेश के नोयडा क्षेत्र सहित अलग अलग क्षेत्रों में ,, निष्पक्ष , निर्भीक  पत्रकारिता  की अलख जगाते हुए , शोषित ,उत्पीड़ित लोगों की इन्साफ की आवाज़ बने भाई रऊफ सिद्द्दिक़ी…

*डर गया चीन, बेहाश हो गया पाकिस्तान।*

*डर गया चीन, बेहाश हो गया पाकिस्तान।*

 इन दिनों अमरत्व के वरदान से अभिसिंचित, धर्म ध्वजा धारक मीडिया-  सत्ता के समक्ष शाष्टांग दण्डवत होकर रात दिन राफाल का जबरदस्त प्रचार प्रसार कर, चीन और पाकिस्तान को ही…

राजस्थान की राजनीति के ऊँट किस करवट बैठेगी

राजस्थान की राजनीति के ऊँट किस करवट बैठेगी

राजस्थान की राजनीति के ऊँट किस करवट बैठेगी विनोद तकिया वाला , स्वतंत्र पत्रकार राजस्थान  की घरती का इतिहास भारत ही नही , वरन सम्पूर्ण विश्व मे अपनी अलग पहचान…

डंके की चोट पर

डंके की चोट पर

-राजेश बैरागी- पुलिस इसलिए प्रशंसा की अधिकारी नहीं है कि उसने एक गैंगस्टर को उसके आखिरी मुकाम तक पहुंचा दिया है।हाथ बंधा गैंगस्टर पांव बंधे हाथी जैसा होता है। उसे…

पत्रकार एमएलसी का भी घोषणा करे सरकार

पत्रकार एमएलसी का भी घोषणा करे सरकार

राष्ट्रीय / शिक्षक  एम एल सी के तर्ज पत्रकार एम एल सी की माँग अब केद्र व राज्य सरकारो से माँग अब उठने लगी है , पत्रकार हमेशा ही प्रजा…

देश-द्रोहियों के मताधिकार?

देश-द्रोहियों के मताधिकार?

चुनाव नजदीक आते ही विविध राजनैतिक दलों व नेताओं में वाकयुद्ध प्रारम्भ हो जाता है। एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते हुए अनेक बार, शब्दों की सीमाएं, न सिर्फ संसदीय मर्यादाएं…

लोक तंत्र के उपवन मे नोटा की अंहम भुमिका

लोक तंत्र के उपवन मे नोटा की अंहम भुमिका

नोटा का सोंटा भारतीय राजनीतिक व्यवस्था में संसद तथा विधान मंडलों के सदस्यों के चुनाव हेतु  शैक्षिक योग्यता का कोई प्रावधान न होने के कारण पूर्ण रूपेण अशिक्षित  व्यक्ति भी…

लाला लाजपत राय की 28 जनवरी को हुई थी मौत, साइमन कमीशन के विरुद्ध निकाला था मार्च

लाला लाजपत राय की 28 जनवरी को हुई थी मौत, साइमन कमीशन के विरुद्ध निकाला था मार्च

लाला लाजपत राय का जन्म 28 जनवरी 1865 को हुआ था। लाला लाजपत राय का स्वतंत्रता संग्राम से राजनीतिक तक का सफर बहुत ही पैचीदा रहा। देश के पंजाब केसरी…

आधुनिकता वर्सेज नग्नता

आधुनिकता वर्सेज नग्नता

हाँ..!!!! आज खुल कर बोल ही दूँ नारी प्रगतिवादिता पर…कंडोम और सैनिटरी पैड सभ्यता पर….कुछ दिन पहले एक पोस्ट आँखों से गुज़री थी, उस पोस्ट में महिलाओं को टैंपूनकी संरचना…

मुस्कान रिहेबलिटेशन फाउंडेशन ने किया शरद सम्मान 2015 का सफल आयोजन

मुस्कान रिहेबलिटेशन फाउंडेशन ने किया शरद सम्मान 2015 का सफल आयोजन

दुर्गा पूजा यूं तो सभी मनाते हैं परंतु बांगला भाषियों के लिए ये एक विशेष त्योहार माना जाता है इसी बात को ध्यान में रखते हुए मुस्कान रिहेबलिटेशन फाउंडेशन इस…

Page 1 of 3123