उत्तर प्रदेश के 15 जिलों के ये इलाके बने कोरोना हॉटस्पॉट, 15 अप्रैल सुबह तक सील

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में कोविड-19 संक्रमण के छह या उससे अधिक मामलों वाले 15 जिलों के अत्यधिक प्रभावित इलाकों को 15 अप्रैल तक सील करने के आदेश दिए हैं। राज्य के अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद और पुलिस महानिदेशक हितेश चंद्र अवस्थी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के 15 जिलों के गंभीर रूप से संक्रमित इलाकों को सील कर करने का निर्देश दिया है। जिन जिलों में 6 से अधिक कोरोना पॉजिटिव केस हैं, उनके हॉटस्पॉट को चिह्नित करके सील किया जाएगा। इन जिलों के हॉटस्पॉट इलाकों के अलावा बाकी जगहों पर साधारण लॉकडाउन लागू रहेगा। सील की यह प्रक्रिया आज रात यानी बुधवार रात 12 बजे से लागू होगी। यही नहीं प्रदेश सरकार ने 30 अप्रैल तक घर से बाहर निकलने के दौरान मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया है।

15 जिलों के हॉटस्पॉट इलाकों को बुधवार की रात 12 बजे से 15 अप्रैल की सुबह तक के लिए पूरी तरह सील कर दिया जाएगा। आगरा में 22, गाजियाबाद में 13, गौतमबुद्धनगर में 12, कानुपर नगर में 12, वाराणसी में 4, शामली में 3, मेरठ में 7, बरेली में एक, बुलंदशहर में 3, बस्ती में 3, फिरोजबाद में 3, सहारनपुर में 4, महाराजगंज में 3, सीतापुर में एक  और लखनऊ में 12 हॉटस्पॉट को चिह्नित किया गया है। सील किए गए इलाकों में 100 प्रतिशत लॉकडाउन का पालन करना होगा। लोगों को एक मोहल्ले से दूसरे मोहल्ले में भी जाने की इजाजत नहीं होगी।

अवनीश अवस्थी ने बताया कि इन जिलों के हॉटस्पॉट इलाकों की स्थिति की समीक्षा 14 अप्रैल को होगी, उसके बाद आगे का फैसला लिया जाएगा। इन 15 जगहों पर कोई भी दुकान नहीं खुलेंगी। इन इलाकों के लिए जारी विशेष पासधारकों को ही इन इलाकों में आने-जाने की इजाजत होगी। उन्होंने बताया कि फायर बिग्रेड के वाहनों से इन हॉटस्पॉट को पूरी तरह सैनिटाइज करने का आदेश सीएम योगी ने दिया है। प्रदेश में बिना मास्क लगाकर बाहर निकलने वालों के खिलाफ कार्रवाई भी हो सकती है।

आइए जानते हैं कि 15 जिलों के कौन-कौन से इलाके पूरी तरह से सील रहेंगे-
ये हैं गौतमबुद्धनगर के हॉटस्पॉट

1. सेक्टर-41, नोएडा
2. हाइड पार्क सेक्टर-78, नोएडा, सुपरटेक केपटाउन सेक्टर-74, नोएडा
3. लोटस बुलवर्ड, सेक्टर-100 नोएडा
4. अल्फा-1 , ग्रेटर नोएडा
5. निराला ग्रीन श्री सेक्टर-02, ग्रेटर नोएडा और पतवारी गांव
6.लॉजिक्स ब्लॉसम काउंटी सेक्टर-137, नोएडा, पारस टियारा सेक्टर-137, नोएडा और वाजिदपुर गांव
7. ATS डोलस जीटा-1, ग्रेटर नोएडा
8. एस गोल्फ शायर सोसाइटी सेक्टर-150, नोएडा
9. सेक्टर-27 और सेक्टर-28
10. ओमीक्रोन-3 सेक्टर-3, ग्रेटर नोएडा
11. महक रेजिडेंसी, अच्छेजा, ग्रेटर नोएडा
12. जेपी विश टाउन, सेक्टर-128, नोएडा
13. सेक्टर-44, नोएडा
14. गांव विश्नोई पोस्ट, दुजाना दादरी
15. सेक्टर-37, नोएडा 1
16. गांव घोड़ी बछेड़ा, गौतमबुद्ध नगर
17.स्टेलर एमआई ओमीक्रोन-3, ग्रेटर नोएडा
18. पाम ओलिम्पिया, गौर सिटी-2, ग्रेटर नोएडा वेस्ट सेक्टर-16
19. सेक्टर-22, चौड़ा गांव, नोएडा
20. ग्रैंड ओमेक्स, सेक्टर-93बी, नोएडा
21. सेक्टर-5 और सेक्टर-8, जेजे कॉलोनी, नोएडा
22. डिजाइनर पार्क, सेक्टर-62, नोएडा

गाजियाबाद में सील होने वाले इलाके

1. नंदग्राम निकट मस्जिद
2. केडीपी सोसाइटी राजनगर एक्सटेंशन
3. सेवियर सोसाइटी, मोहन नगर
4. बी-77-जी-5, शालीमार एक्सटेंशन टू 5. पसोंडा
6. ऑक्सीहोम, भोपुरा
7. वसुंधरा सेक्टर 2-बी
8. वैशाली सेक्टर छह
9. कौशांबी स्थित एक सोसाइटी
10. नाईपुरा, लोनी
11. मसूरी
12. खाटू श्याम कॉलोनी दुहाई
13. कोविड-1 सीएचसी मुरादनगर

आगरा में 22 इलाके, जो होंगे सील

1. नगला पदी
2. ताजगंज
3. कैंट
4. कमलानगर
5. रावली

6. नामनेर
7. नया घर (जीवनी मंडी)

8. रामनगर
9. मंटोला
10. बिचपुरी
11. छत्ता
12. लेडी लॉयल
13. वजीरपुरा
14. एसएन मेडिकल कॉलेज 15. जमुनापार
16. जगदीशपुरा
17. सैंया
18. शाहगंज
19. खंदौली
20. बसंत विहार
21. हसनपुर
22. घटिया आजम खां।

शामली के सील होने वाले इलाके
1.कस्बा झिंझाना, थाना झिंझाना
2.नानुपुरी मोहल्ला(तिमरसा), थाना कोतवाली
3.ग्राम भैंसानी इस्लामपुर, थाना थानाभवन
ये हैं लखनऊ के हॉटस्पॉट 

1.डॉक्टर नाज़िया के घर के आसपास का इलाका विजय खंड
2.कैफ़ अली आब्दी के घर के आसपास का इलाका इंदिरानगर
3.डॉक्टर तौसीफ हैदर के घर के आसपास का इलाका अलीना एंक्लेव खुर्रम नगर
4.यश ठाकुर के घर के आसपास का इलाका विशालखंड आंशिक रूप से सील होगा
5.मस्जिद अलीजान ,सदर
6.मोहम्मदी मस्जिद अस्तबल, चारबाग
7.फूलबाग मस्जिद, कैसरबाग
8.मोहम्मदिया मस्जिद, मुजम्मिल नगर सहादतगंज
9.लाल मस्जिद ,आलमनगर तालकटोरा
10.नजरबाग मस्जिद, कैसरबाग
11.खजूर वाली मस्जिद, त्रिवेणी नगर
12.अली हयात मस्जिद फैजुल्लागंज मड़ियाव।
13.रजौली मस्जिद ,गुडंबा।

मेरठ में ये इलाके होंगे सील

मेरठ के जिन इलाकों को सील किया जा रहा है उनमें हुमायूँ नगर, शास्त्री नगर सेक्टर 13, सराय बहलीम, इस्लामाबाद, सिविल लाइन में सूर्यनगर और हरनामदास रोड, सरूरपुर में खिवाई, फलावदा में महलका शामिल हैं। सरधना और मवाना कस्बे का कुछ हिस्सा भी सील किया जाएगा। कोरोना संक्रमित इलाकों को सील करने के शासन के निर्देश के संबंध में मेरठ के एसएसपी ने जिले के सभी अधिकारियों की बैठक बुलाई है।
वाराणसी के चारों इलाकों में पहले से कर्फ्यू
वाराणसी के चार क्षेत्रों- मदनपुरा, लोहता, गंगापुर, बजरडीहा- में रविवार को ही कर्फ्यू लगा दिया गया था। वाराणसी के जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने भी स्पष्ट किया है कि वर्तमान में जो व्यवस्था यहां चल रही है, वही जारी रहेगी। डीएम के अनुसार, “जहां-जहां पॉजिटिव केस मिले हैं, केवल उन्हें ही सील किया गया है। अगर नए इलाके सामने आएंगे तो उन्हें सील कराया जाएगा। इन चारों इलाकों के अलावा हर जगह आवश्यक चीजों की दुकानें और प्रतिष्ठान जैसे अभी खुल रहे हैं, वैसे ही खुलते रहेंगे। जिले की मंडियों, बाजार, रिटेल दुकानों, बैंक, रसोई गैस आदि के खुलने का समय तय है। यह समय के अनुसार यह खुलते रहेंगे।”

डीएम ने कहा कि हाटस्पाट वाले इलाके में सुबह शाम एक-एक घंटे की ढील दी जाएगी। इस दौरान सब्जी, दूध, राशन की सामग्री एक घंटे के लिए अंदर जाएंगी और वापस आ जाएंगी। इन हॉटस्पाट के अलावा 99 प्रतिशत जिले के इलाके में कोई बदलाव नहीं होने जा रहा है। जिले की सीमा सील करने के बारे में डीएम ने कहा कि जो व्यवस्था लॉकडाउन पीरियड के लिए बनी थी, वह जारी है और इसी तरह जारी रहेगी।

अब तक 343 केस, 187 तबलीगी जमात से 
प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश के 37 जिलों से अब तक 343 केस सामने आए हैं, जिनमें से 187 तबलीगी जमात से जुड़े हुए हैं। अब तक सामने आए कोरोना संक्रमित केसों में 0 से 20 वर्ष वर्ग के 16%, 21 से 40 वर्ष उम्र वर्ग के 44%, 41 से 60 वर्ष उम्र वर्ग के 27% और 60 से अधिक उम्र के 13% लोग शामिल हैं।

डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने बताया कि जिन हॉटस्पॉट को सील किया जा रहा है, वहां किसी प्रकार के आवाजाही नहीं होगी। इन इलाकों में सप्लाई की व्यवस्था सिर्फ होम डिलिवरी के जरिये ही होगी। फल, सब्जी, दवा, राशन इत्यादि की व्यवस्था होम डिलिवरी के माध्यम से हर घर तक पहुंचेगी। उन्होंने बताया कि कोरोना पॉजिटिव लोगों के संपर्क में आए हर एरिया और लोगों को चिह्नित कर क्वारंटाइन और सैनिटाइज करने का काम किया जा रहा है। इन इलाकों में ड्रोन की सहायता से निगरानी की जाएगी। डीजीपी ने बताया कि अब तक 1573 तबलीगी जमात से संबंधित लोगों को चिह्नित किया गया है और इनमें से 1268 को क्वारंटाइन करा दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.