ढाई महीने में आप के 6 विधायक दागी

Aap_mla image 5588दिल्ली के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी सरकार के शुरू के करीब ढाई माह के शासन में ही उसके छह विधायकों पर सरकारी कर्मचारियों से मारपीटए दंगाए पथराव और अन्य मामलों को लेकर मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं। यह सब हुआ है दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार के छह विधायकों पर। मुकदमे के बावजूद अभी तक किसी भी विधायक को गिरफ्तार नहीं किया गया है। पार्टी का आरोप है कि पुलिस ने उनके खिलाफ जानबूझ कर मुकदमे दर्ज किए हैंए जबकि वे तो जनहित में आवाज बुलंद कर रहे थे।

श्आपश् ने राजधानी में गत 14 फरवरी को दिल्ली में शासन संभाला था। करीब ढाई माह के शासनकाल में उसके छह विधायकों पर पुलिस थानों में विभिन्न धाराओं में मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं। परसों ही तिलक नगर के विधायक जरनैल सिंह के खिलाफ एमसीडी के एक जेई को मारने और सरकारी काम में बाधा पहुंचाने को लेकर मुकदमा दर्ज हुआ है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसारए बुराड़ी के विधायक संजीव झा और मॉडल टाउन के विधायक अखिलेश त्रिपाठी पर आरोप है कि उन्होंने 20 फरवरी को बुराड़ी थाने में अपहरण के आरेाप में बंद दो युवकों पर पुलिस द्वारा मारपीट करने के आरोप में सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ थाने में पथराव किया। पुलिस ने दोनों विधायकों के अलावा सैकड़ों अज्ञात लोगों के खिलाफ दंगा करनेए मारपीटए तोड़फोड़ए सरकारी प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाने की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर रखा है।
;संजीव झा और अखिलेश त्रिपाठीद्ध
इसके अलावा किराड़ी के पार्टी विधायक ऋतुराज झा के खिलाफ अमन विहार थाने में एमसीडी के जेई सुमित कुमार के साथ मारपीट करने और सरकारी काम में बाधा पहुंचाने का मुकदमा दर्ज हो चुका है। पार्टी के ही कोंडली के विधायक मनोज कुमार पर आरोप है कि उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं के साथ घड़ोली डेयरी फार्म निवासी कपिल नागर की पिटाई की। उनके खिलाफ भी गाजीपुर थाने में मारपीट का मुकदमा दर्ज है। इसके अलावा पार्टी के उत्तम नगर से विधायक नरेश बाल्यान पर चुनाव के दौरान शराब बांटने का मुकदमा दर्ज किया है। चुनाव के दौरान उनके गोदाम पर पुलिस ने भारी मात्रा में शराब पकड़ी थी। क्राइम ब्रांच इस मामले की जांच कर रही है। आरोप है कि विधायक इस मामले में पुलिस की मदद नहीं कर रहे हैं। इसलिए मामले की जांच आगे नहीं बढ़ पा रही है।

परसों भी दिल्ली पुलिस ने आम आदमी पार्टी के अन्य विधायक जरनैल सिंह पर मुकदमा दर्ज किया गया है। उन पर आरोप है कि तिलक नगर इलाके में एक अवैध निर्माण तोड़ने गए एमसीडी के एक जेई को उन्होंने पीटा और सरकारी काम में बाधा डाली। हालांकि जरनैल सिंह का कहना है कि पीसीआर को फोन उन्होंने ही किया लेकिन पुलिस ने रंजिशन उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। उनका यह भी आरोप है कि उक्त जेई इस निर्माण को लेकर पैसा वसूलने आया था।

इस मामले में आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता का कहना है कि जिन विधायकों पर मुकदमे दर्ज किए गए हैंए वे इलाके में जनता की आवाज उठा रहे थे और इलाके के भ्रष्ट अफसरों की पोल खोल रहे थे। इसके बावजूद उनकी सुनवाई न करते हुए पुलिस ने उनके खिलाफ ही मुकदमा दर्ज किया। प्रवक्ता का कहना है कि कोर्ट में जाने के बाद ये मामले टिक ही नहीं पाएंगे और उनके सभी विधायक बाइज्जत बरी हो जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.