उन्होंने कहा कि पिछले साढ़े चार वर्ष से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में हमने इस बात पर पूरा ध्यान दिया कि पहले के शासन में बिगड़ी कानून-व्यवस्था की वजह से प्रदेश की जनता में जो असुरक्षा की भावना पैदा हुई थी, उसे कैसे तोड़ा जाए। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के लोगों को किसी भी तरह भय के माहौल से बनाने का काम हमारी शीर्ष प्राथमिकता में था। उन्होंने कहा कि मुझे प्रसन्नता है कि राज्य की जनता इस बात से खुश है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनकी सरकार कानून-व्यवस्था के मामले में उनके भरोसे पर खरी उतरी है।